Tag: काम (प्रेम) बड़ा टेढ़ा होता है जिसके प्रति आप जैसे भी बँध जाते हैं वैसे ही उसके प्रति करुणा और स्नेह उत्पन्न हो जाता है।