0 Comments

सचेतन 2.101 : रामायण कथा: सुन्दरकाण्ड – रावण की सभा में विभीषण की सलाह

प्राचीन कथाओं की गूंज नमस्कार और स्वागत है “प्राचीन कथाओं की गूंज” में, सचेतन में जहाँ हम आपके लिए लाते हैं ऐतिहासिक और पौराणिक कहानियाँ। आज के विचार की कड़ी में हम जानेंगे कि कैसे विभीषण ने रावण को हनुमान जी के वध से रोका। आइये, सुनते हैं ये रोमांचक कथा। जब वानरशिरोमणि महात्मा हनुमान…

0 Comments

सचेतन 2.100 : रामायण कथा: सुन्दरकाण्ड – रावण की प्रतिक्रिया और हनुमान जी की अंतिम चेतावनी

“धर्म युद्ध की गाथा: हनुमानजी का पराक्रम” नमस्कार श्रोताओं! स्वागत है आपका “धर्मयुद्ध की कहानियाँ” के तीसरे पड़ाव पर इस सचेतन के विचार के सत्र में। पिछले एपिसोड में हमने सुना कि हनुमान जी ने रावण को श्रीराम का पराक्रम और उनकी धर्मनिष्ठा के बारे में बताया। आज के एपिसोड में हम सुनेंगे कि रावण…

0 Comments

सचेतन 2.97 : रामायण कथा: सुन्दरकाण्ड – रावण के प्रभावशाली स्वरूप को देखकर हनुमान जी के विचार

“धर्म युद्ध की गाथा: हनुमानजी का पराक्रम” नमस्कार श्रोताओं! स्वागत है आपका हमारे सचेतन के इस विचार के सत्र “धर्मयुद्ध की कहानियाँ” में। आज की कहानी है ‘रावण के प्रभावशाली स्वरूप को देखकर हनुमान जी के मन में उठे विचार’। यह कहानी हमें ले चलती है उस क्षण में जब वीर हनुमान जी ने राक्षसराज…

0 Comments

सचेतन 2.93 : रामायण कथा: सुन्दरकाण्ड – रावण के पाँच सेनापतियों का वध

“धर्म युद्ध की गाथा: हनुमानजी का पराक्रम” नमस्कार श्रोताओं! स्वागत है आपका हमारे सचेतन के इस एपिसोड “धर्मयुद्ध की कहानियाँ” में। आज की हमारी कहानी है ‘रावण के पाँच सेनापतियों का वध’। इस कहानी में महात्मा हनुमान जी की वीरता और साहस की अद्भुत गाथा है। आइए, सुनते हैं यह रोमांचक कथा। जब महात्मा हनुमान…

0 Comments

सचेतन 2.92 : रामायण कथा: सुन्दरकाण्ड – रावण के मन्त्री के सात पुत्रों का वध

“धर्म युद्ध की गाथा: हनुमानजी का पराक्रम” आज मानो की वातावरण ऐसा हो रहा हो की धीमी ताल पर बजता हुआ ढोल और शंख की ध्वनि जैसी हो रही है-  नमस्कार, आप सभी का स्वागत है “धर्म युद्ध की गाथा” में, जहाँ हम आपको ले चलेंगे पौराणिक युद्धों और वीरता की रोमांचक कहानियों के सफर…