0 Comments

सचेतन 2.13: रामायण कथा: सुन्दरकाण्ड – समुद्र में छिपे हुए मैनाक पर्वत का दर्शन

सचेतन 2.13: रामायण कथा: सुन्दरकाण्ड – समुद्र में छिपे हुए मैनाक पर्वत का दर्शन  नव वर्ष की शुभकामनाएँ! हमलोग चर्चा कर रहे थे की हनुमान जी उपमान अलंकार हैं क्योंकि आज के युग में वह अप्रत्यक्ष हैं। वह प्रसिद्ध बिन्दु या प्राणी या पर्वत या समुद्र आदि अभी भी मौजूद है जिसके साथ उपमेय रूप…