0 Comments

सचेतन 2.69: रामायण कथा: सुन्दरकाण्ड – हनुमान जी, सीता जी को सुनाने के लिये श्रीराम-कथा का वर्णन किए

इस प्रकार बहुत-सी बातें सोच-विचारकर महामति हनुमान जी ने सीता को सुनाते हुए मधुर वाणी में इस तरह कहना आरम्भ किया—‘इक्ष्वाकुवंश में राजा दशरथ नाम से प्रसिद्ध एक पुण्यात्मा राजा हो गये हैं। वे अत्यन्त कीर्तिमान् और महान् यशस्वी थे। उनके यहाँ रथ, हाथी और घोड़े बहुत अधिक थे॥ उन श्रेष्ठ नरेश में राजर्षियों के…