Tag: वे भी गरुड़ के समान वेगशाली होकर संपूर्ण दिशा में उड़ते फिरते थे।